May 24, 2024

अष्ट सिद्धि और नव निधि के दाता हैं भगवान बजरंग बली-स्वामी कैलाशानंद गिरी

पंडित दिव्यांश शर्मा स्वतंत्र पत्रकार
हरिद्वार, 12 नवम्बर। निरंजन पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज के संयोजन में श्री दक्षिण काली मंदिर में हनुमान जयंती का पर्व श्रद्धा व उल्लास के साथ मनाया गया। इस दौरान हनुमान जी का दुग्धाभिषेक, गंगोधन अभिषेक, अनार के रस सहित कई प्रकार से अभिषेक कर विशेष पूजन कर उन्हें लड्डुओं का भोग लगाया गया। विदेश से आए कई भक्त भी पूजन में सम्मिलित हुए। इस अवसर पर स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने सभी को हनुमान जयंती एवं दीपावली की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि अष्ट सिद्धि एवं नव निधि के दाता भगवान श्रीराम के अनन्य भक्त महावीर हनुमान की पूर्ण विधि विधान से पूजा अर्चना करने से बल, बुद्वि, साहस, संकटों पर विजय और आरोग्यता की प्राप्ति होती है और मंगल ग्रह सम्बंधी दोष दूर होते है। स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने बताया कि छोटी दीपावली को मां अंजना की कोख से हनुमान जी का जन्म हुआ था। देवाधिदेव महादेव के अंश महावीर हनुमान सज्जन कर रक्षा व दुष्टों का दमन करते हैं। उनके नियमित दर्शन पूजन से शनिदेव व वरुण देव की विशेष कृपा भी प्राप्त होती है। उन्होंने कहा कि मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान श्रीराम के अनन्य भक्त हनुमान ने लंका युद्ध के दौरान शनिदेव को रावण की कैद से मुक्त कराया था। इसलिए हनुमान जी की सेवा करने वाले भक्त पर शनिदेव का प्रकोप कभी नहीं होता है। स्वामी कैलाशानंद गिरी महाराज ने बताया कि महादेव शिव, मां काली और बजरंग बली उनके आराध्य हैं। इस दौरान पार्षद अनिरूद्ध भाटी, आकाश भाटी, आईडी शर्मा, स्वामी अंवतिकानंद ब्रह्मचारी, बालमुकुंदानंद ब्रह्मचारी, अनुराग वाजेपयी, आचार्य प्रमोद पंडित सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु भक्त मौजूद रहे।

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.